13/05/2020. P/56

हिन्दी/
///////
२००७ में हुई लड़ाई के पीछे की स्टोरी इस प्रकार है। हम सभी लडके २००७ का  टी-२० वर्ल्ड कप देखते थे। युवराज के छक्के और टीम इंडिया के खेल देखकर हम सभी पूरा मज़ा लेते थे। मैच के दौरान सारे कम भूल कर या फटाफट ख़तम करके मैच देखने लग जाते थे। हर जीत के साथ मैच और भी रोमांचक होता जा रहा था। जब लास्ट मैच और यू कहे की फाइनल मैच चल था। इंडिया और पाकिस्तान का तो साला एक अन्य लड़का जिसका नाम पप्पू था। अपने दो चलो के साथ बैठ कर पाकिस्तान का सपोर्ट करने लगा था। जैसे टीम इंडिया का कोई प्लेयर आउट होता तो ताली बजकर जस्न मनाता टीम इंडिया ने पूरी बैटिंग कर ली फिर पाकिस्तान की बैटिंग चालू हुई तो चोका लगने पर खड़ा होकर डांस करता कुछ देर तक लडके चुप थे। फिर रूम में बैठे सभी लडके एक साथ अचानक से पप्पू और उसके चलो की पब्लिक धुलाई करनी स्टार्ट कर दिया करीब सवा सौ लड़कों ने उन तीनों को इतना मारा की पप्पू के दात टूटकर उसके जबड़े में फर गए थे। उसके हाथ तोड़ दिया था सर बल्ले से फाड़ दिया। पप्पू और उसके साथियों को हॉस्पिटल में भर्ती करा दिया गया। किसी स्टाफ ने कुछ नहीं कहा क्योंकि कोई अगर एज आता तो उसका भी यही हाल होना था क्योंकि लडके उस समय पूरी पिटाई के मूड में थे। इसके बाद पप्पू जब ठीक होकर हॉस्पिटल से आया तो उसकी पावर जा चुकी थी। कोई भी उसे पीटता लडके इतने गुस्से में आ जाते कि उसको पीटते कुछ ने तो प्लान बनाया कि इस साले को यही फसी पे लटका देते। जब पप्पू को ये बात पता चला तो इतना डर गया कि सुप्रीदेंट के पास गया ।https://www.blogger.com/blogger.g?blogID=1299419143469466436#allposts










English translate/
////////////////////////////
 The story behind the fight in 2008 is as follows.  We all watched the 2007 T20 World Cup of boys.  We all enjoyed watching Yuvraj's sixes and Team India's games.  During the match, everyone used to watch the match by forgetting less or finishing quickly.  The match was becoming more exciting with each win.  When the last match and the final match of Yu Kahe was underway.  Another boy named Pappu was the brother-in-law of India and Pakistan.  Sitting with his two brothers, he started supporting Pakistan.  Like if a player of Team India was out, then celebrating the clap, Team India did full batting, then Pakistan's batting started, and the boys were silent for some time while standing and dancing.  Then all the boys sitting in the room suddenly started doing public washing of Pappu and his chalo. About a hundred hundred boys hit the three so much that Pappu's teeth broke and fell into his jaw.  He broke his arm and tore it with the bat.  Pappu and his associates were admitted to the hospital.  No staff said anything because if someone comes to the edge, then he had to be in the same situation because the boys were in a mood of beating him at that time.  After this, when Pappu recovered from the hospital, his power was gone.  Any boy beating him would get so angry that some of the men who beat him planned to hang this brother-in-law on this.  When Pappu came to know about this, he was so scared that he went to the superintendent.
https://www.blogger.com/blogger.g?blogID=1299419143469466436#allposts



Comments

Popular posts from this blog

लालकिला / travel vlog

मीना बाजार/छत्ता चौंक लालकिला

लालकिला/ लाहौरी गेट