11/05/2020. P/54

हिन्दी/
///////
दानिश की हरकते इतनी बढ़ गई थी कि पूरे होने वाले परेशान हो गए थे। उसे होम से भागने का भूत शौख था। उसने होम से भागने की अनगिनत बार कोशिश की हर बार पकड़ में आ जाता। स्टाफ वाले उससे मारना भी बंद कर चुके थे। क्योंकि पिटाई का उसे कुछ असर ही नहीं होता था। कई बार ओ छत से कूद कर भागा लेकिन थोड़ी दूर जाने के बाद फिर से पकड़ में आ गया। एक बार सुप्रिदेंट और शिव नारायण सर उसे कोर्ट ले जा रहे थे। पेसी के लिए जब ट्रैफिक पर गाड़ी रोका तो दानिश गाड़ी से उतर कर भागा उसके पीछे सुप्रिदेट और शिव नारायण सर भागे दानिश भाग कर ट्रैफिक पुलिस वाले के पास गया और बोला ये लोग मुझे किडनैप कर के ले जा रहे है। ट्रैफिक पुलिस और पब्लिक ने सुप्रिदेंट और शिव सर को घेर लिया। और उन्हें वहीं बैठा लिया दानिश की कस्टडी फाइल दिखानके बाद दोनों लोगो को छोड़ा उस दिन होम में दानिश को बल्ले में तेल लगा लगा कर पीटा गया। पर उससे कुछ होने वाला नहीं। अगर कभी ओ मार से चिल्लाता तो इतनी खराब आवाज होती कि सिर फोड़ लेने का मन करता। एक दिन होम में एक मैम आई काउंसिल के लिए उस कमाने न काउंसिल मैम के उसके सामने रखी पानी की भारी ग्लास में से आधी ग्लास पानी पिया और आधी ग्लास पानी मैम के सामने करते हुआ बोला डार्लिंग अब तुम्हारी बारी है। फिर कमिन ने कहा कितना लेगी। सुप्रिदेंट और स्टाफ को बोला ये मेरे चले है। कुछ नहीं बोलेगे। उस दिन पूरे स्टाफ वालो ने उसे पीटा। उस दिन के बाद से ओ मैम कभी होम में नहीं आयी।https://myjourney971.blogspot.com/2020/05/11052020-p54.html?m=1










English translate/
////////////////////////////
 The Danish antics had increased so much that the completionists were upset.  He had a ghost of running away from home.  He tried to run away from home countless times, getting caught every time.  The staff had stopped beating him.  Because the beating did not affect him at all.  Several times O jumped from the roof but after going a little distance got back in the grip again.  Once the President and Shiva Narayan Sir were taking him to court.  When the vehicle stopped on the traffic for Pacey, Danish ran away from the car, Supridet and Shiva Narayan sir ran behind him and went to the traffic policeman and said that these people are taking me kidnapped.  The traffic police and the public surrounded Supridant and Shiva sir.  And sitting them there, after showing Danish's custodial file, they left both people. On that day Danish was beaten by applying oil to the bat.  But nothing is going to happen to him.  If there was ever a shout from O Mara, there would be such a bad sound that I would feel like bursting my head.  One day, for a mam i council at home, I did not earn that, I drank half a glass of water from the heavy glass of water placed in front of the council mam, and half a glass of water in front of mam said darling, now it is your turn.  Then Kamin said how much she will take.  He said to the superintendent and the staff that it is mine.  Will not say anything.  That day the entire staff beat him up.  O ma'am has never been at home since that day.https://myjourney971.blogspot.com/2020/05/11052020-p54.html?m=1






Comments

Popular posts from this blog

लालकिला / travel vlog

मीना बाजार/छत्ता चौंक लालकिला

लालकिला/ लाहौरी गेट