02/06/2020. P/76

हिन्दी/
///////
चारो भाग ६A से लेकर ६द एक ही हाल में बैठे थे। और शोर बहुत तेज हो रहा था। १० बजने वाला था। कोई भी कक्षा अध्यापक किसी भी भाग में नहीं आए थे। थोड़े ही देर में हमारे कक्षा अध्यापक आए और बोले अगले सप्ताह सभी लोगो को उनका क्लास रोल नंबर बता दिया जाएगा। विद्यार्थी इतने शोर कर रहे थे। कि किसी को अध्यापक की आवाज सुनाई दे थी। तो किसी को नहीं मेरे कक्षा अध्यापक का नाम श्री अजय कुमार पांडेय था। और अजय सर इंग्लिश में प्रो से भी प्रो है। सर ने बुक खोल कर पढाना चाहा लेकिन शोर इतना ज्यादा हो रहा था कि वो पढा न सके हम लोगो ने शोर बंद कर दिया लेकिन और सेक्शन के विद्यर्थियों ने शोर बंद नहीं किया। फिर क्लास कि घंटी बजी और वो अपना फाइल उठाएं और चले गए और बोल गए एक बार नया भवन बन जाने दो फिर मै तुम सब को सुधरता हूं। सर के जाने के बाद दीपक ने कहा अब चल बाहर घूमते है कोई क्लास नहीं होगी और अगला क्लास धाइया सर का है और वो पक्का पिटेगा। मै दीपक के साथ भाग गया। हम दोनों ने दोपहर तक घूमते रहे फिर स्कूल लंच टाइम में होम आ गए। अगले दिन फिर अजय सर का क्लास ख़तम होने के बाद दीपक ने कहा चल निकलते है स्कूल से मैंने कहा आज मै रुकता हूं। और देखता हूं किस- किस विषय के टीचर आते है किसके नहीं सेकंड क्लास धाईया सर का था।












English translate/
////////////////////////////
The four parts were sitting in the same hall from ६A to ६.  And the noise was getting louder.  It was about 10 o'clock.  None of the class teachers came in any part.  In a short time our class teacher came and said that next week all the people will be told their class roll number.  The students were making so much noise.  That someone could hear the teacher's voice.  No one, my class teacher's name was Mr. Ajay Kumar Pandey.  And Ajay sir is also pro to English in English.  Sir wanted to read the book openly but the noise was getting so much that he could not read it. We stopped the noise but the students of the section did not stop the noise.  Then the class bell rang and he picked up his file and went away and said once the new building is built then let me improve you all.  After the departure of the head, Deepak said, "Now let's go out and there will be no class and the next class is of Dhaiya sir and he will beat."  I ran away with Deepak.  We both roamed till noon then came home at school lunch time.  The next day, after the completion of Ajay sir's class, Deepak said, "Let's go to school, I said today I stop."  And I see the teacher of which subject, whose second class was not the head of the household.






Comments

Popular posts from this blog

लालकिला / travel vlog

मीना बाजार/छत्ता चौंक लालकिला

लालकिला/ लाहौरी गेट