25/07/2020. P/106

हिन्दी/
///////
प्रिंसिपल को मारने कि धमकी के बाद मै क्लासए चला गया। लेकिन प्रिंसिपल को बात हजम नहीं हुई। अगले दिन प्राथना में प्रिंसिपल ने कहा कल तो एक लडके ने मुझे ही मारने कि धमकी दी इतना इनका हौसला बढ़ गया है। की प्रिंसिपल को धमकी मेरी क्लास को छोड़कर किसी और को नहीं पता था कि मैंने प्रिंसिपल को मारने कि धमकी दी थी। जैसे ही प्रिंसिपल ने मेरा नाम और क्लास साथ में सेक्शन बताया मेरी क्लास के मुझे देखने लगे मैंने भी उनकी तरह अपने पीछे देखने लगा मेरी क्लास वालो को छोड़कर बाकी स्टूडेंट ने सोचा कि जिसके बारे में प्रिंसिपल बोल रहा है। वो लड़का आज स्कूल नहीं आया। आया और मै बच गया। दूसरी बार एक लडके ने मुझे थप्पड़ मार दिया तो मैंने उसे अपनी क्लास जो को सेकेंड फ्लोर पर था। क्लास की खिड़की से बाहर लटकाया था वो तो खिड़की छोटी पड़ गई और वो आधा ही बाहर लटक गया। उस दिन के बाद तो किसी ने मुझे क्लास में तंग या लड़ाई करने कि कोशिश नहीं की लेकिन एक दिन एक नया लड़का आया और उसे मेरी ही सीट चाहिए था। मैंने मना कर दिया लेकिन वो मानने वाला ही नहीं था। कमिने ने स्कूल की छुट्टी के समय मुझे मारने के लिए गेट पर बुलाया लेकिन बेचारा खुद पिट गया क्योंकि मारने वाला कभी धमकी नहीं देता वो सीधा पिट के चला जाता है। और बाद में सिर्फ टीचर सुलह कराने आते है और लड़ाई ख़तम हो जाती है तो जो पिट गया सो पिट गया ।









English translate/
////////////////////////////
 I left ClassA after threatening to kill the principal.  But the principal did not digress.  The next day, in the prayer, the principal said, "Tomorrow a boy has threatened to kill me so much, he has got so much encouragement."  Threat to the Principal Nobody except my class knew that I had threatened to kill the principal.  As soon as the principal told my name and class along with the section, I started looking after my class, I also started looking after them, except my class students, the other students thought about which the principal is talking.  That boy did not come to school today.  Came and I survived.  The second time a boy slapped me, I gave him my class which was on the second floor.  When the class was hung outside the window, the window became smaller and half of it hung outside.  After that day no one tried to tease or fight me in class, but one day a new boy came and wanted my seat.  I refused but he was not going to accept.  Kameen called me at the gate to kill me while on school leave but the poor man got himself beat up because the one who never threatened would go straight to the pit.  And later only the teachers come to reconcile and if the fight is over, then whoever gets beaten is beaten up.









Comments

Popular posts from this blog

लालकिला / travel vlog

मीना बाजार/छत्ता चौंक लालकिला

लालकिला/ लाहौरी गेट