04/07/2020. P/97

हिन्दी/
///////
होम से बहुत से लडके बाहर स्कूल में पड़ने जाते थे। लेकिन ज्यादा तर लडके अपना नाम स्कूल में इसलिए लिखवाते थे। ताकि स्कूल से भाग सके क्योंकि स्कूल से भागना आसान था। लेकिन सिर्फ सिर्फ ६ थ क्लास से उपर पढने वाले के लिए क्योंकि ६ क्लास से या उपर पढने वाले लडके जब भागते थे तब उन्हें कोई ढूंढने नहीं जाता सिर्फ एक एफआईआर थाने में एक एफआईआर की फोटो कॉपी फाइल में लगा दिया जाता और एक वीक के बाद फाइल बंद कर दिया जाता स्कूल से भागने वालों बहुत से लडके थे जिनमें से कुछ के नाम रमेश, चिमा, जनोला इन्हीं के नाम याद रह गया। अलीपुर होम में रहने वाले पुराने लडके बताते थे कि प्राईमरी स्कूल में पड़ने वाले होम के लडके इतने शैतान थे कि रास्ते में पड़ने वाले दुकान दारो के समान उठा लिया करते थे। और दुकान दार कुछ कर भी नहीं पाते थे क्योंकि होम वालो ने दुकान वालो को पहले ही बता रखा था। की भाई ये सभी कस्टडी में ( पागल खाने ) में रहते है तेरा माल भी जाएगा और केस भी नहीं बनेगा पुलिस वाले भी नहीं सुनेंगे कई दुकान वालो की दुकान होम के लडको ने लूट लिया पुलिस थाने में एफआईआर लिखाने गए तो तो पुलिस वालो ने कहा कि भाई जब तुम लोगो को पता है कि कॉस्टडी के लडके है तो उनके स्कूल आने - जाने के टाइम पर दुकान बंद कर लिया करो। पुलिस वालो ने कहा मै एफआईआर तो लिख लू लेकिन गवर्नमेंट से केस लड़ लेगा भाई क्योंकि ये लडके गवर्नमेंट के अंडर है। उनका तो कुछ नहीं होगा। तेरी नैया जरूर डूब जाएगी इसलिए एफआईआर छोड़ो जब होम के लडके स्कूल के लिए निकले तो दुकान का शटर गिरा दिया करो दो - चार मिनट बाद दोबारा खोल लिया करो।








English translate/
////////////////////////////
Many boys from home used to go to school outside.  But the boys used to write their names in school more.  So that it was easy to run away from school.  But only for those studying above 6th class, because no one goes to find the boys who run from 6th class or above, only then an FIR photo copy of an FIR in a police station is put in the file and after a week  The file would have been closed. There were many boys who ran away from the school, some of whom had names like Ramesh, Chima, Janola, and so on. The boys of the home falling in the primary school of Alipur were so devilish that the shops that came in the way of Daro  Used to lift the same.  And the shop owners could not do anything because the home owners had already told the shop owners.  Brother, they all live in custody (crazy eating), your goods will also go and the case will not be made even the policemen will not listen. Many shopkeepers shop home boys looted and went to the police station to write an FIR, then the policemen said  That brother, when you know that there are boys of costi, then close the shop at the time of their arrival and departure.  Policemen said that I should write an FIR but brother will fight the case with the government because this boy is under the government.  They will have nothing.  Teri naiya will definitely be drowned, so leave the FIR, when the boys of the home leave for school, drop the shutter of the shop. Open it again after four to four minutes.






Comments

Popular posts from this blog

लालकिला / travel vlog

मीना बाजार/छत्ता चौंक लालकिला

लालकिला/ लाहौरी गेट