23/07/2020. P/105

हिन्दी/
एक दिन की बात है मै क्लास में बैठा हुआ था । और किसी विषय का काम कर था। तभी साइड के डेस्क पर बैठा एक लड़का जिसका नाम मुझे ठीक से याद नहीं है। उसने उपर से मेरा पेन पकड़ कर हिला दिया जिससे मेरी पूरी कॉपी का पेज खराब हो गया। जब मैंने उससे कहा कि ये तूने क्यो किया तो उसने मुझे ही अकड़ दिखने लगा क्योंकि मै क्लास में सबसे सारिफ तो नहीं पर शान्त स्वभाव का था। उसने मेरा कॉलर पकड़ कर मारने कि धमकी दिन लगा मुझे बहुत गुस्सा आया और मैंने एक घुसा कस कर उसे से मारा वो रोने लगा और रोते - रोते प्रिंसिपल के पास पहुंच गया। प्रिंसिपल ने मुझे बुलाया और मै चला गया। की गलती मेरी नहीं है तो मुझे सजा नहीं मिलेगी या प्रिंसिपल सर मुर्गा बना कर थोड़ी देर बाद छोड़ देगे प्रिंसिपल ऑफिस में पहुंचते ही प्रिंसिपल उठ खड़ा हुआ और अपनी अलमारी खोली अलमारी में से उसने एक डेढ़ हाथ का डंडा निकला जिसमे तेल लगा हुआ था। देख कर ऎसा लग रहा था। की प्रिंसिपल ने डंडा स्पेशल मारने के लिए बनवाया या खरीदा होगा। प्रिंसिपल ने बिना मेरी बात सुने एक हाथ पकड़ कर दे डंडा - दे डंडा पिटने लगा मैने कहा से मेरी बात तो सुन लीजिए लेकिन प्रिंसिपल सुनने को तैयार नहीं मैंने गस्सी कहा अभी तो सिर्फ घुसा मारा है अब साले को जान से मार दुगा फिर तो प्रिंसिपल ने डंडा छोड़ कर मुझे थप्पड़ मारने लगा कुछ थप्पड़ मारने के बाद प्रिंसिपल रुक गया। फिर मेरे दिमाग में आया कि अब प्रिंसिपल ने मारा तो मै प्रिंसिपल को मरुगा प्रिंसिपल मेरी तरफ़ बढ़ने लगा मैंने भी प्रिंसिपल मारने के लिए तैयार था तभी मेरे क्लास टीचर श्री अजय पांडेय सर आ गए और मै रुक गया नहीं तो मै प्रिंसिपल को १०० परसेंट मारता ।









English translate/
////////////////////////////
Once upon a time I was sitting in class.  And was working on some subject.  Then a boy sitting on the side desk whose name I do not remember properly.  He grabbed my pen from above and shook it, which spoiled the page of my entire copy.  When I told him why you did this, he started looking at me because I was not the most sariff in the class but was calm.  He threatened to hold my collar and threatened to kill me. I got very angry and I hit him with a rammer. He started crying and weeping and reached the principal.  The principal called me and I left.  If I am not at fault, I will not be punished or the Principal will leave his head after making a cock. On reaching the Principal's office, the Principal stood up and opened his cupboard, out of the cupboard, he came out a stick of one and a half hands with oil in it.  Looked like this.  The principal must have built or bought a slacking special.  The Principal listened to me without holding one hand and started beating the stick. I said, listen to me, but the principal is not ready to listen. I said Gassi, I have only just entered, now the brother will be killed.  Leaving the stick and slapping me, the principal stopped after slapping something.  Then it came to my mind that now the principal was killed, I would die the principal, the principal started to grow towards me. I too was ready to kill the principal, then my class teacher Mr. Ajay Pandey sir came and I did not stop otherwise I would have killed the principal at 100%  .







Comments

Popular posts from this blog

लालकिला / travel vlog

मीना बाजार/छत्ता चौंक लालकिला

लालकिला/ लाहौरी गेट