27/04/2020. P/40

हिन्दी
हम तीनो इस फिराक में लग गए की कैप्टन किसको बनाया जाय जो हमे कुछ ना बोले इसके लिए हम तीनो ने डेसाइड किया को कयूम एक लड़का जो था हमारे कुटी का को हम लोगो के जैसे ही तम्बाकू गुटखा खाया करता था हाईट है उसकी ठीक थी उससे बात किया तो उसने कहा तुम लोगो को जो करना है करो तुम लोगो को कुछ नहीं बोलुगा कैप्टन बनने के लिए तीन लोगों की हा होनी चाहिए पहला पापा जी दूसरा शिव नारायण सर तीसरा कुटी में रहने वाले बच्चो कि कुटी में रहने वाले बच्चो को राजू के हवाले  किया गया मनाने के लिए राजकुमार रितेश पापा जी और में शिव नारायण सर को शिव नारायण सर का ऑफिस का ज्यादा तर काम मै ही करता था जैसे स्टोर से बच्चो के लिए कपडे निकालना जिसको दिया उसका नाम लिखना और कितना माल बचा है न्यू बच्चे आए तो उनको सामान देना और सुप्रिदेंट की चमचा गिरी जैसे हा में हा मिलना जो बोले सब ठीक है जब नाजिश छूटा तो शिव नारायण सर ने पूछा शशि किसको कैप्टन बनाया जाय मै इसी बात का तो इंतेज़ार कर रहा था मैने कहा सर कयूम को राजू और रितेश और राजकुमार ने पहले से अपना कम कर दिया था अगले दिन कुटी खड़ी हुई तो शिव नारायण सर आए और कहा कयूम कोन है वो आगे आया फिर बच्चो से पुछा इसको कैप्टन बना रहा हूं सभी ने हा में मुंडी हिलाई फिर उसको कैप्टन बना कर शिव नारायण सर चले गए।








English translate/
All three of us started thinking about who should be made Captain, who did not tell us anything, for this, we all decided that we had a boy who used to eat tobacco gutkas like our kutis, he was right.  When he talked, he said whatever you want to do, you will not say anything to the people. To become a captain, there should be a hankering of three people, the first father, the second, Shiva Narayan Sir, the third one to live in the hut.  To convince the children living in the hut, Raju Ritesh Papaji and I used to do more work of Shiv Narayan sir in the office of Shiv Narayan sir like to remove clothes for children from the store, which was given to him.  Write his name and how much money is left, when new children come, give them the goods and meet the spoon of the superintendent like ha ha who said that everything is fine when the Nazis leave, then Shiva Narayan  I asked Sashi who should be made the captain, I was waiting for this.  He came forward and asked the children to make him captain, all of them shook Mundi and then made him captain and went to Shiv Narayan sir.







Comments

Popular posts from this blog

लालकिला / travel vlog

मीना बाजार/छत्ता चौंक लालकिला

लालकिला/ लाहौरी गेट