16/04/2020। P/29

हिन्दी/

इलाहाबाद/प्रयागराज से लखनऊ वहा मै मॉर्निंग में 10 बजे के आस पास पहुंच गया था वहा उतर कर मै आस पास घूमने लगा स्टेशन से बाहर निकाल कर मैंने साइन बोर्ड देख जिसपर जू घर का मार्क लगा था उधर ही मै चल पड़ा करीब आधा घंटा चलने के बाद मुझे कोई साइन नहीं दिखा फिर में वापस स्टेशन आ गया फिर उहा से काशी विश्वनाथ ट्रेन से न्यू दिल्ली चल पड़ा न्यू दिल्ली पहुंचने के बाद पता चला कि डॉक्टर ने किसी का मर्डर कर दिया है जो भी उसके बदले जेल जाएगा उस डॉक्टर पैसे देगा दिल्ली के तीन सिनेमा हाल जिनमें में फिल्म देखने जाने लगा ना पहला इंपीरियल सिनेमा दूसरा सदर थर्ड शीला उस समय शीला हाल की सबसे लो टिकट 30/40 की मिलती थी सदर वाली कि 15 थी इंपीरियल की 25 थी ओ सिनेमा हाल कुछ खास नहीं था बस उस हॉल के बाहर वेश्याएं खड़ी रहती थी उनका टिकट कताओ फिर 100 रुपए देकर में ले जाके कुछ भी करो हा उस इलाके में छक्के बहुत स्टोंग थे किसी एक को कुछ खा तो पूरा ग्रुप आपकी लेगा एक बार शीला हाल में स्पार्टन 300 लगा था मैने टिकट ले लिया सालो ने अन्दर नहीं जाने दिया कहा बच्चो की एंट्री नहीं है बहुत गुस्सा आया कहा जब एंट्री नहीं थी तो टिकट क्यों दिया फिर सालो ने पैसे वापस किए।







English translate/

From Allahabad / Prayagraj to Lucknow, I reached there around 10 o'clock in the morning and after getting around, I started walking around and getting out of the station, I saw the sign board on which the mark of the house was there and I walked for about half an hour.  After I did not see any sign, then I came back to the station. Then after reaching Kashi Vishwanath train from New Delhi to New Delhi, after reaching New Delhi, it came to know that the doctor murdered someone.  Whoever has given jail in return for that doctor will give money to three cinema halls in Delhi, in which the film started going to the first Imperial Cinema and secondly Sheila Third Sheela at that time the lowest ticket of Sheela Hall was 30/40.  Thi Imperial's 25th O cinema hall was nothing special, prostitutes used to stand outside that hall, buy their tickets and then do anything by taking 100 rupees for them, and in that area there were sixes  If you had to eat something, the whole group would take you once. Sheela had recently put up a Spartan 300. I took the ticket. Salo did not allow me to enter. The children do not have an entry. I was very angry when I had no entry, why did I give the ticket again?  Salo returned the money.






Comments

Popular posts from this blog

लालकिला / travel vlog

मीना बाजार/छत्ता चौंक लालकिला

लालकिला/ लाहौरी गेट