30/11/2020. P/121

 हिन्दी/

///////

लोटस टेंपल के अन्दर शोर करने के कारण वहा के स्टॉफ ने हम लोगों को जल्दी है बाहर निकाल दिया लेकिन बाहर निकाले जाने का अफ़सोस हम मै से किसी को नहीं था। हम स्कूल दोस्तो ने एक ग्रुप बना लिया जिसमे मै, दीपक, पवन , स्वराज, संजय, शोरभ, दिलीप थे। हम टेंपल से बाहर निकलने वाले रोड पर चलने लगे हमारे आगे लड़कियों का काफिला, झुंड चल रहा था। और दिलीप बगल से निकल कर मेरे पीछे आ गया मुझे बिल्कुल भी अंदाजा नहीं था कि दिलीप क्या करने वाला है दिलीप ने मेरे बगल से हाथ आगे करके मेरे आगे चल रही लड़की की चोटी खीच दी और हाथ तुरन्त पीछे कर लिया उस लड़की ने पीछे मुड़ कर घुर कर मुझे देखा मै अपना सर ना में हिलाया फिर से हम लोग चलने लगे दिलीप ने फिर से मेरी बगल से हाथ ले जाकर मेरे आगे चल रही लड़की कि चोटी फिर से खीच दी और हाथ तुरन्त पीछे कर लिया इसबार लड़की ने झगड़ा करने के लिए गुस्से से पीछे मुड़ कर मुझे देखा मेरी तो सासे अटक गई अब थप्पड़ पड़ने वाला है और हमारे थोड़ी दूर पर ही लेडी कॉन्स्टेबल पाइप का डंडा लेकर खड़ी थी। उससे पीटने का दर और पुलिस वाले भी थे। उनका भी डंडा याद आया साथ ही स्कूल कि बदनामी और टीचर का गुस्से वाला चेहरा याद आया मैंने तुंरत हाथ जोड़कर उस लड़की से प्रार्थना किया कि वो शांत रहे। और उस लड़की ने मान लिया फिर उस लड़की के पीछे से ही हट गया और दिलीप के पास से ही हट गया कि अगली बार ओ मुझे थप्पड़ मारेगी इसकी गारंटी है। 







English translate/

////////////////////////////

Due to the noise inside the Lotus Temple, the staff there quickly pulled us out but none of us was sorry to be thrown out.  We school friends formed a group in which I, Deepak, Pawan, Swaraj, Sanjay, Shobh, Dilip.  We started walking on the road leading out of the temple, a cavalcade of girls was walking ahead of us.  And Dileep came out of my side and came after me. I had no idea what Dileep was going to do. Dileep pulled his hand from next to me and pulled the top of the girl running ahead of me and immediately pulled the hand back.  I stared and looked at me, I shook my head again. We started walking again. Dileep again took the hand from my side and pulled the top of the girl running ahead of me again and withdrew his hand immediately.  Looking back at me with anger, my mother-in-law got stuck and is about to get slapped and the lady constable was standing with a pipe stick on our little distance.  The beating rate and policemen were also there.  He remembered his baton as well as the school's infamy and the angry face of the teacher. I immediately folded my hands and prayed to the girl that she should be calm.  And that girl agreed, then went out from behind that girl and moved away from Dileep, guaranteed that the next time O slap me.





Comments

Popular posts from this blog

लालकिला / travel vlog

मीना बाजार/छत्ता चौंक लालकिला

लालकिला/ लाहौरी गेट