31/10/2020. P/119

 हिन्दी/

///////

स्कूल में सबसे बड़ा और मजेदार दिन होता था। जब स्कूल कि तरफ़ से दिल्ली घूमने या टूर पर जाते थे तब तो दोस्तो के संग मौज मस्ती की कोई सा ही नहीं होती थी। खास कर मेरे कमिने ,पागल दोस्त ऎसी हरकते करते थे। की हसी रुकने का नाम ही नहीं लेती। आठवीं क्लास से जब मै मेरे दोस्तो के साथ टूर पर गया। तो मै और मेरे दोस्तो ने लड़- झगड़ कर खिड़की वाली सीट ली। और बस चल पड़ी किसी को नहीं पता था कि कहा जा रहे है। अध्यापक ने कहा कि हम लोग कहा का रहे है यह एक आश्चर्य है। जब हम लोग मजनू के टीला के पास ट्रैफिक होने की वजह से रुके तो क्लास के लडको ने पास से ही जाते छक्के को बोला डार्लिंग चल रही है क्या इस बात पर छक्के ने खूब गाली दिया वो गाली बकता था जब तक स्कूल बस चली नहीं गई। कुछ देर बाद बस रुकी तो पता चला कि हम लोग लोटस टेंपल घूमने आए है। उसी दिन और भी स्कूल के टूर आए थे जिसमे लडके और लड़कियां भी थी ये देख के क्लास के लडके तो बोले ठीक जगह आए है। जो कुछ देर पहले बोल रहे थे कि बहुत बोरिंग सी जगह है। अध्यापक ने कहा सभी लोग लाइन में चलेंगे एक दूसरे का हाथ पकड़ कर। सभी ने हा में सर हिलाया सभी स्टूेंट्स लाइन में लगकर अंदर चले गए उसके बाद तो कौन सी लाइन और कौन सा हाथ मै और संजय , दिलीप, पवन, सौरभ, स्वराज एक साथ हो लिए लोटस टेंपल के किनारे फ्ब्बारे लगे थे जो कि बन्द थे सायद शाम के समय चलाते थे। 






English translate/

////////////////////////////

 It used to be the biggest and funniest day at school.  When visiting Delhi or going on a tour from the school side, there was no fun at all with friends.  Especially my kaminek, crazy friends used to do such things.  That Hussey does not take the name of stopping.  When I went on tour with my friends from class VIII.  So I and my friends quarreled and took a window seat.  And no one just knew what was going on.  The teacher said that we are told that this is a surprise.  When we stopped due to traffic near Majnu's mound, the boys of the class spoke to the sixes who were passing by. Darling is going on. Did the sixes abused him so much that he abused him till the school bus was gone  .  After some time the bus stopped and we came to know that we have come to visit the Lotus Temple.  On the same day, more school visits came in which the boys and girls were also seeing that the boys of the class said that they have come to the right place.  Those who were speaking a while ago said that this is a very boring place.  The teacher said that all the people will walk in line holding each other's hands.  Everyone nodded in ha, all the students went inside the line and after that, which line and which hand I and Sanjay, Dileep, Pawan, Saurabh, Swaraj got together, there were flats on the side of Lotus Temple which were closed  Syed used to run in the evening.






Comments

Popular posts from this blog

लालकिला / travel vlog

मीना बाजार/छत्ता चौंक लालकिला

लालकिला/ लाहौरी गेट